Search
Saturday 10 April 2021
  • :
  • :
Latest Update

पुलिस के डर से आत्महत्या करने का ड्रामा

पुलिस के डर से आत्महत्या करने का ड्रामा

दो बिल्डिंगों की छतों के बीच फसे युवक को पुलिस व फायर ब्रिगेड ने बचाया
पुणा पुलिस थाना इंस्पेक्टर वीयू गड़रिया की सूझबूझ व बहादुरी से बची युवक की जान

सूरत। परवत पाटिया स्थित गणेशनगर सोसायटी में सोमवार को आत्महत्या का प्रयास करने वाले युवक का हाई वोल्टेज ड्रामा पुणा पुलिस इंस्पेक्टर युवी गड़रिया की सूझबूझ व बहादुरी से 1 घण्टे की मस्कत से खत्म हुआ।पुलिस की मार के डर से युवक दो बिल्डिंगों की छतों के नीचे लगे छज्जे के बीच झूलकर आत्महत्या करने का ड्रामा कर रहा था।

इसकी जानकारी सोसायटी निवासियों को होने पर बड़ी संख्या में लोग इकट्ठा हो गए।सूचना पुलिस व अग्निशमन विभाग को देने पर मौके पर पहुचे पुलिस इंस्पेक्टर व उनकी टीम ने फायर ब्रिगेड की टीम के साथ बचाव के लिए बिल्डिंग के नीचे नेट बिछाकर पुणा पुलिस टीम ने सूझबूझ दिखाते हुवे पहले युवक को समझाने का प्रयास किया।फिर ऊपरी तल के दोनो बिल्डिंग फ्लैट की खिड़की में जिसके ऊपर छज्जे पर युवक खड़ा था उसे बातो में व्यस्त रखा।उस दौरान पीएसआई राठौड़ छत पर पहुच गए और अपनी कमर में रसी बांध कर उल्टे उतरने को तैयार हुवे।नीचे की फ्लैट की खिड़की में खड़े इंस्पेक्टर गड़रिया का इशारा मिलते ही राठौड़ छत से रस्सी की मदद से नीचे छज्जे पर झूम रहे युवक तक पहुचकर उसे कमर से पकड़ा उसी फुर्ती से छत से फायर ब्रिगेड की टीम ने दोनों को ऊपर खिंच लिया।

जिसके साथ ही एक घण्टे से चले रहे हाई वोल्टेज ड्रामें का सुखद अंत हुआ।आत्महत्या का प्रयास करने वाला युवक बाड़मेर(राजस्थान)जिले का मनोहरसिंह उत्तमसिंह राठौड़ बताया गया है।मनोहरसिंह नशे में पुलिस मार के डर से छत के छज्जे पर पहुँचा था।कोई कम्पनी की गाड़ी का ड्राइवर बता रहा था।पुणा पुलिस इंस्पेक्टर वीयू गड़रिया,सब इंस्पेक्टर राठौड़ कॉन्स्टेबल वर्षा और प्रदीप अहीर की सूझबूझ व बहादुरी से युवक की जान बच गई।गणेशनगर वासियो ने पुणा पुलिस इंस्पेक्टर गड़रिया समेत उनकी टीम का आभार प्रकट किया।यहां उल्लेखनीय है पुणा पुलिस इंस्पेक्टर गड़रिया की बहादुरी व सूझबूझ से कई वारदातों में आरोपियों को पकड़ने में सफलता प्राप्त हुई है।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *