Search
Thursday 25 February 2021
  • :
  • :

टीम इंडिया ने दूसरे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से हराया

टीम इंडिया ने दूसरे टेस्ट में ऑस्ट्रेलिया को 8 विकेट से हराया

सीरीज 1-1 से से बराबर हुई

मेलबर्न । टीम इंडिया ने यहां मेजबान ऑस्ट्रेलियाई टीम को दूसरे क्रिकेट टेस्ट मैच में आठ विकेट से हरा दिया। इसी के साथ ही दोनो टीमें चार मैचों की इस टेस्ट सीरीज में 1-1 से बराबरी पर पहुंच गयी हैं। भारतीय टीम ने इस बॉक्सिंग डे टेस्ट को जीतकर पहले टेस्ट में मिली करारी हार का हिसाब भी बराबर कर लिया है। आजिंक्य रहाणे की कप्तानी में खेले गये इस मैच में भारतीय टीम शुरु से ही हावी रही और उसने मेजबान टीम को संभलने का कोई अवसर नहीं दिया। पहले भारतीय गेंदबाजों ने ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाजों पर अंकुश लगाया और फिर रहाणे की शतकीय पारी ने रही सही कसर पूरी कर दि। भारतीय टीम ने चौथे दिन लंच के समय तक ऑस्ट्रेलिया को दूसरी पारी में 200 रनों पर समेट दिया। इसके बाद जीत के लिए मिले 70 रनों के छोटे से लक्ष्य को केवल दो विकेट के नुकसान पर ही हासिल कर लिया।

इस मैच में जीत के लिए मिले लक्ष्य का पीछा करते हुए भारत ने दूसरी पारी में मयंक अग्रवाल और चेतेश्वर पुजारा के विकेट खो दिये। मयंक पाच और पुजारा तीन रन बनाकर पेवेलियन लौटे। इसके बाद युवा बल्लेबाज गिल ने 35 रन और रहाणे ने 27 रन बनाकर टीम को लक्ष्य तक पहुंचाया। वहीं आज सुबह अपने कल के स्कोर छह विकेट पर 136 रन से आगे खेलते हुए आस्ट्रेलियाई टीम 200 रनों पर ही सिमट गयी। भारत की ओर से जसप्रीत बुमराह ने 27 ओवर में दो और सिराज ने 21.3 ओवर में 37 रन देकर तीन विकेट लिए। वहीं स्पिनर आर अश्विन ने 71 रन देकर दो विकेट लिये जबकि रविंद्र जडेजा ने 28 रन देकर दो विकेट लिए। ऑस्ट्रेलिया की ओर से कैमरन ग्रीन और पैट कमिंस ने सातवें विकेट के लिये 57 रन जोड़े पर ये दोनो ही इसके बाद नयी गेंद पर बिखर गये। ग्रीन ने 146 गेंद में 45 रन बनाये जबकि कमिंस ने 103 गेंद में 22 रन की पारी खेली। बुमराह ने दूसरी नयी गेंद से कमिंस का विकेट लिया। ग्रीन को सिराज ने पेवेलियन भेजा। इसके बाद सिराज ने नाथन लियोन को भी आउट किया।

इस मैच में भारतीय टीम ने ऑस्ट्रेलियाई टीम को पहली पारी में 195 रनों पर ही समेट दिया था। इसके बाद भारतीय टीम ने अपनी पहली पारी में 326 रन बनाकर पहली पारी के आधार पर 131 रनों की बढ़त हासिल कर ली थी। नियमित कप्तान विराट कोहली की गैर मौजूदगी में मिली इस जीत से अजिंक्य रहाणे ने अपनी कप्तानी क्षमताओं को भी साबित किया है। रहाणे की कप्तानी में भारत ने अब तक खेले तीनों टेस्ट में जीत दर्ज की है जिनमें दो आस्ट्रेलिया के खिलाफ और एक जीत अफगानिस्तान के खिलाफ मिली है। इस टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण करने वाले शुभमन ने दोनों पारियों में अपनी अच्छी बल्लेबाजी से टीम में अपनी जगह भी पक्की की है। वह भविष्य के सितारे हैं। वहीं अनुभवी तेज गेंदबाज उमेश यादव के चोटिल होने के बाद भी जिस प्रकार मोहम्मद सिराज ने गेंदबाजी की है इससे भारतीय तेज गेंदबाजी का भविष्य बेहतर होना तय नजर आ रहा है।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *