Search
Thursday 17 October 2019
  • :
  • :

Pehlu Khan: अलवर लिंचिंग: 6 आरोपी बरी, अशोक गहलोत बोले- हम दिलाएंगे पहलू खान के परिवार को न्याय – alwar mob lynching case ashok gehlot says we are committed to ensuring justice for family of late pehlu khan

नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

पहलू खान हत्या मामला: अलवर कोर्ट ने सभी 6 आरोपियों को किया बरी
हाइलाइट्स

  • पहलू खान की हत्या के मामले में अदालत ने सभी बालिग 6 आरोपियों को किया बरी
  • राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा, एडीजे के फैसले के खिलाफ दायर करेंगे अपील
  • अशोक गहलोत ने कहा, वह पहलू खान के परिवारवालों को न्याय दिलाने के लिए प्रतिबद्ध
  • 1 अप्रैल 2017 को कथित गोरक्षकों ने पहलू की जमकर की थी पिटाई, दो दिनों बाद हो गई थी मौत

जयपुर

राजस्थान के बहुचर्चित पहलू खान मॉब लिंचिंग कांड के सभी आरोपियों के बरी होने पर राजनीति भी शुरू हो गई है। कोर्ट के फैसले के बाद राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा है कि वह पहलू खान के परिजनों के साथ हैं और उन्हें इंसाफ दिलाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। यूपी के पूर्व सीएम और एसपी सुप्रीमो अखिलेश यादव ने भी आरोपियों के बरी होने पर तंज कसा है। यादव ने ट्वीट किया, ‘किसी की सरेआम हत्या के साक्षात प्रमाण होते हुए भी सब आरोपियों की मुक्ति? लोकतंत्र से शोकतंत्र की ओर… !’

डेयरी कारोबारी पहलू खान की भीड़ द्वारा पीटकर हत्या के मामले में अलवर की अदालत ने बुधवार को फैसला सुनाते हुए सभी बालिग 6 आरोपियों को बरी कर दिया। फैसले के बाद प्रदेश की अशोक गहलोत सरकार ने कहा है कि वह पहलू खान के परिवारवालों को न्याय दिलाने के लिए प्रतिबद्ध हैं। यही नहीं, गहलोत ने अपने ऑफिशल ट्विटर अकाउंट से यह भी बताया है कि राज्य की कांग्रेस सरकार एडीजे के फैसले के खिलाफ अपील दायर करेगी। बता दें कि 2017 में जब यह घटना हुई, उस वक्त राजस्थान में वसुंधरा राजे सिंधिया की अगुआई में बीजेपी की सरकार थी। कांग्रेस ने बीजेपी सरकार पर पहलू खान केस को कमजोर करने का भी आरोप लगाया था।

अशोक गहलोत ने ट्वीट किया, ‘हमारी राज्य सरकार ने मॉब लिंचिंग के खिलाफ अगस्त 2019 के पहले सप्ताह में ही कानून बनाया है।’ उन्होंने लिखा है, ‘हम पहलू खान के परिवार के लिए न्याय सुनिश्चित करने को प्रतिबद्ध हैं। राज्य सरकार अतिरिक्त सत्र न्यायालय (एडीजे) के आदेश के खिलाफ अपील दायर करेगी।’

पढ़ें: अलवर केस में कोर्ट ने सभी 6 आरोपियों को किया बरी

पहलू के बेटे ने फैसले पर जताया अफसोस

उधर, कोर्ट के फैसले पर पहलू के बेटे इरशाद ने अफसोस जाहिर किया है। उन्होंने कहा कि वह इस फैसले से खुश नहीं है और आगे अपील करेंगे। कोर्ट में फैसला सुनाते वक्त कहा गया कि पुलिस आरोपियों को दोषी साबित नहीं कर पाई है। अडिशनल पब्लिक प्रॉसिक्यूटर योगेंद्र खटाना ने कहा, ‘कोर्ट ने लिंचिंग के सभी 6 आरोपियों को संदेह का लाभ देते हुए बरी कर दिया।’ उन्होंने यह भी कहा, ‘फैसले की प्रति अभी हमें नहीं मिली है। फैसले का अध्ययन करने के बाद हम अपील करेंगे।’

फैसला राजनीतिक रोटियां सेंकने वालों को तमाचा: बचाव पक्ष

बचाव पक्ष के वकील हुकुम चंद शर्मा ने अदालत के फैसले को ऐतिहासिक बताते हुए कहा, ‘यह उन लोगों के मुंह पर करारा तमाचा है, जो इस मामले की आड़ में अपनी राजनीतिक रोटियां सेकने की कोशिश कर रहे थे।’ पहलू खान पक्ष के वकील कासिम खान ने कहा, ‘अदालत के फैसले की प्रति मिलने के बाद हम इसका अध्ययन करेंगे और आगे अपील करेंगे। हमें उम्मीद है कि हमें न्यााय मिलेगा।’

नेता प्रतिपक्ष बोले, मामले को विशेष रंग दिया गया

इस बहुचर्चित घटना के समय राज्य के गृहमंत्री रहे और फिलहाल विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ने अदालत का फैसला आने के बाद कहा, ‘मैं शुरू से ही इस मामले में स्पष्ट था कि कानून की अवहेलना करने वालों के खिलाफ कार्रवाई हो। इस मामले को एक विशेष (राजनीतिक) रंग देकर देश भर में उठाया गया मानों हम इस तरह की हत्याओं के पक्षकार हैं।’

इन लोगों को किया गया बरी

न्यायाधीश डॉ. सरिता स्वामी ने 7 अगस्त को दोनों पक्षों की बहस और अंतिम जिरह सुनने के बाद अपना फैसला बुधवार के लिए सुरक्षित रख लिया था। बालिग आरोपियों में विपिन यादव, रविंद्र कुमार, कालूराम, दयानंद, योगेश कुमार और भीम राठी शामिल थे, जिन्हें अदालत ने बरी कर दिया।

(एजेंसी इनपुट्स के साथ)

पहलू खान हत्या मामला: अलवर कोर्ट ने सभी 6 आरोपियों को किया बरीपहलू खान हत्या मामला: अलवर कोर्ट ने सभी 6 आरोपियों को किया बरी
NBT



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *