Search
Friday 20 September 2019
  • :
  • :

jaipur News: राजस्‍थान: कानून-व्‍यवस्‍था के बहाने सचिन पायलट का सीएम अशोक गहलोत पर वार – rajasthan sachin pilot attacked cm ashok gehlot under the pretext of law and order

टाइम्स न्यूज नेटवर्क | Updated:

सचिन पायलट बनाम अशोक गहलोतसचिन पायलट बनाम अशोक गहलोत

जयपुर

राजस्‍थान में विधानसभा चुनाव के बाद वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता अशोक गहलोत और सचिन पायलट के बीच संबंधों में शुरू हुई कड़वाहट खत्‍म होने का नाम नहीं ले रही है। डेप्‍युटी सीएम पायलट ने बुधवार को कानून और व्‍यवस्‍था के बहाने सीएम अशोक गहलोत पर सार्वजनिक रूप से निशाना साधा। पायलट का यह बयान ऐसे समय पर आया है जब राज्‍य विधानसभा में विपक्ष के नेता गुलाब चंद कटारिया ने राजस्‍थान में कानून और व्‍यवस्‍था के बिगड़ने की कई घटनाओं के बाद राज्‍य सरकार की नीतियों पर सवाल उठाए थे।

पायलट ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा, ‘विपक्ष के नेता ने संभवत: वाजिब कारणों से राज्‍य सरकार पर निशाना साधा है लेकिन यह सच है कि हमें कानून और व्‍यवस्‍था पर और ज्‍यादा ध्‍यान देने की जरूरत है। चाहे वह धौलपुर, अलवर या बहरोड़ की घटना हो, पिछले कुछ महीनों से कई स्‍थानों पर कानून व्‍यवस्‍था की स्थिति अशांत बनी हुई है। हमें इस पर और ज्‍यादा गंभीरता से काम करने की जरूरत है।’

माना जा रहा है कि पायलट ने अपने इस बयान से गहलोत पर निशाना साधा है। बता दें कि गहलोत के पास गृह मंत्रालय है। दोनों के बीच अनबन की शुरुआत विधानसभा चुनाव के बाद से शुरू हो गई थी जब कांग्रेस ने वर्ष 2013 के चुनाव की 21 सीटों से बढ़कर साल 2018 में 100 सीटों पर जीत हासिल की। इसके बाद सीएम पद को लेकर पायलट और गहलोत में काफी विवाद हुआ। अंतत: गहलोत सीएम बनाए गए और पायलट को डेप्‍युटी सीएम पद से संतोष करना पड़ा।

गहलोत सरकार जयपुर में पत्‍थरबाजी और बहरोड़ कांड के बाद से निशाने पर है। इसके अलावा पहलू खान केस में सभी 6 आरोपियों के बरी हो जाने के बाद गहलोत सरकार की देशभर में आलोचना हुई है। पायलट ने कहा, ‘राज्‍य के लोगों को हमसे काफी अपेक्षा है, इसलिए हमें और ज्‍यादा सतर्क रहने की जरूरत है। कानून और व्‍यवस्‍था शासन का महत्‍वपूर्ण हिस्‍सा है। हमें अपनी कमियां दूर करने के लिए तेजी से काम करने की जरूरत है।’




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *