Search
Wednesday 26 June 2019
  • :
  • :

fake medicine: जयपुर: आयुर्वेदिक औषधि में अंग्रेजी दवाइयां मिलाने का पर्दाफाश – jaipur case of mixing ayurvedic medicine with allopathic medicine

चिकित्सा और स्वास्थ्य विभाग के औषधि नियंत्रण संगठन ने इस फर्म के खिलाफ ड्रग ऐंड कॉस्मेटिक ऐक्ट तथा भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत बगरू थाने में मामला दर्ज कराया है।

भाषा | Updated:

प्रतीकात्मक तस्वीर

जयपुर

राजस्थान के चिकित्सा विभाग ने आयुर्वेदिक औषधियों में कथित रूप से अंग्रेजी दवाइयां मिलाए जाने के एक बड़े मामले का खुलासा किया है। इस बारे में निर्माता फर्म के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गई है। औषधि नियंत्रक राजाराम शर्मा ने बताया कि आयुर्वेदिक औषधि बनाने वाली फर्म आयुषराज एन्टरप्राइजेज द्वारा आयुर्वेदिक औषधियों में अंग्रेजी दवा मिलाने की शिकायतें मिली थीं।

फर्म की दवाइयों के नमूने लेकर जांच करवाई गई तो शिकायत की पुष्टि हो गई। चिकित्सा और स्वास्थ्य विभाग के औषधि नियंत्रण संगठन ने इस फर्म के खिलाफ ड्रग ऐंड कॉस्मेटिक ऐक्ट तथा भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत बगरू थाने में मामला दर्ज कराया है। शर्मा ने बताया कि फर्म की डायबीटीज की दवा में मेटफॉर्मिन हाइड्रोक्लोराइड पाई गई। डायबीटीज के उपचार में काम आने वाली दो औषधियों धन्वतरि डीबी केयर और प्रानिक डीबी केयर में एलोपैथिक दवा पाई गई।

इसके साथ ही एक अन्य औषधि क्यूरालिन हर्बल डायटरी सप्लिमेंट में भी मेटफॉर्मिन हाइड्रोक्लोराइड पाया गया। शुरुआती जांच के अनुसार कंपनी द्वारा अवैध रूप से आयुर्वेदिक औषधि के नाम पर एलोपैथिक दवा मिश्रित कर विदेशों में भेजने की जानकारी के आधार पर फर्म के विरूद्ध मामला दर्ज किया गया है।

डीबी केयर कैप्सूल के 180 कैप्सूल पैक की कीमत 2200 रुपये, प्रानिक डीबी केयर के 60 कैप्सूल पैक की कीमत 999 रुपये और क्यूरालिन हर्बल डायटरी सप्लिमेंट के 180 कैप्सूल पैक की ऑनलाइन कीमत 4840 रुपये निर्धारित है। इन कीमतों के आधार पर फर्म ने 8.50 करोड़ रुपये मूल्य के मेटफॉर्मिन युक्त कैप्सूल कथित तौर पर बनाए।

 

rajasthan
News
 से जुड़े हर ताज़ा अपडेट पाने के लिए NBT के फ़ेसबुक पेज को लाइक करें
Web Title jaipur case of mixing ayurvedic medicine with allopathic medicine

(News in Hindi from Navbharat Times , TIL Network)




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *