Search
Monday 9 December 2019
  • :
  • :

bhiwadi mob lynching: अलवर: भिवाड़ी मॉब लिंचिंग के शिकार युवक के पिता ने की खुदकुशी – rajasthan father of bhiwadi mob lynching victim allegedly commits suicide

नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

प्रतीकात्मक तस्वीरप्रतीकात्मक तस्वीर
हाइलाइट्स

  • अलवर के भिवाड़ी में मॉब लिंचिंग के शिकार युवक के पिता ने की खुदकुशी
  • आरोप है कि पुलिस के रवैए से आहत होने के बाद रतीराम ने खाया जहर
  • पिछले महीने हरीश जाटव की मोटर साइकल ने महिला को टक्कर मार दी थी
  • भीड़ ने बुरी तरह पिटाई की थी, दिल्ली के अस्पताल में इलाज के दौरान मौत

अलवर

राजस्थान के अलवर जिले के भिवाड़ी में मॉब लिंचिंग का शिकार हुए शख्स के पिता ने कथित रूप से खुदकुशी कर ली है। पिछले महीने एक महिला से बाइक टकराने के बाद हरीश जाटव की पीट-पीटकर हत्या कर दी गई थी। बताया जा रहा है कि हरीश के पिता को जान से मारने की धमकी मिल रही थी। यह भी कहा जा रहा है कि वह अब तक इस मामले में पुलिस के रवैए से संतुष्ट नहीं थे।

भिवाड़ी में मॉब लिंचिंग के शिकार हरीश के पिता रतीराम जाटव ने गुरुवार शाम को कथित तौर पर जहर खा लिया। इसके बाद उन्हें इलाज के लिए टपूकड़ा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र (सीएचसी) लाया गया लेकिन हालत में सुधार न होने पर डॉक्टरों ने उन्हें अलवर रिफर कर दिया। अस्पताल पहुंचने से पहले ही रतीराम ने दम तोड़ दिया।

पढ़ें: पहलू खान लिंचिंग: कोर्ट के फैसले पर प्रियंका के सवाल

अलवर के एसपी परिस देशमुख का इस मामले पर कहना है, ‘उन्हें (रतीराम को) जब अस्पताल लाया गया तो उनकी मौत हो चुकी थी। इस मामले में जांच जारी है।’

क्या है पूरा मामला

पिछले महीने हरीश जाटव की मोटर साइकल ने एक महिला को टक्कर मार दी थी। इसके बाद भीड़ ने उनकी बुरी तरह पिटाई की थी। 16 जुलाई की रात को वह फसला गांव में बेहोशी की हालत में मिले थे। हमले में गंभीर रूप से घायल होने के बाद उन्हें इलाज के लिए भिवाड़ी सीएचसी लाया गया। हालत नाजुक होने पर उन्हें दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां 18 जुलाई को हरीश की मौत हो गई।

पढ़ें: 5 पॉइंट्स में समझें पहलू केस में क्यों छूटे सभी आरोपी



हरीश जाटव चौपानकी थाना क्षेत्र के झिवाणा गांव के रहने वाले थे। 17 जुलाई को उनके पिता रतीराम ने फलसा गांव के कुछ लोगों के खिलाफ बाइक की टक्कर के बाद मारपीट का मामला दर्ज कराया था। वहीं, दूसरे पक्ष की तरफ से महिला को बाइक से टक्कर मारने का केस दर्ज कराया गया। अलवर के एसपी परिस देशमुख ने मीडिया से बातचीत में मॉब लिंचिंग की बात से इनकार किया था। हालांकि पोस्टमॉर्टम में सामने आया कि हरीश की मौत सिर में चोट लगने से हुई है।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *