Search
Tuesday 26 September 2017
  • :
  • :

रेल मंत्री ने कहा नहीं चला सकते नियमित ट्रेन, भोले नगरी के फेरे बढ़ाने से भी इनकार

रेल मंत्री ने कहा नहीं चला सकते नियमित ट्रेन, भोले नगरी के फेरे बढ़ाने से भी इनकार
सूरत.सूरत से उत्तर भारत के लिए नियमित ट्रेनों की मांग के बदले एक बार फिर आश्वासन मिला है। इस बार यह आश्वासन रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने दिया है। नियमित ट्रेन की मांग को लेकर उत्तर भारतीय संगठन के पदाधिकारी दिल्ली में रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा से मिले। संगठन के पदाधिकारियों ने सूरत के उत्तर भारतीयों की गांव जाने की समस्या का हवाला देकर सिन्हा से साप्ताहिक ट्रेनों को नियमित करने की मांग की। पदाधिकारियों की मांग पर रेल राज्यमंत्री सिन्हा ने तत्काल ट्रेनों को नियमित करने से मना कर दिया, लेकिन उधना-दानापुर एक्सप्रेस में पांच अतिरिक्त कोच लगाकर इसे सप्ताह में एक दिन के बजाय दो दिन कर दिया।
भोलेनगरी एक्सप्रेस के नहीं बढ़ेंगे फेरे-  रेल राज्यमंत्री के साथ हुई उत्तर भारतीय संगठन के पदाधिकारियों के साथ नवसारी से भाजपा सांसद सीआर पाटिल और रामनरेश मिश्रा भी उपस्थित थे। रामनरेश मिश्रा ने बताया कि मनोज सिन्हा से हमने उत्तर भारतीयों को हो रही परेशानी के बारे में बताया और दानापुर एक्सप्रेस और भोले नगरी एक्सप्रेस के फेरे बढ़ाने की मांग की।
– इस पर मनोज सिन्हा ने कहा कि भोले नगरी के शेड्यूल में बदलाव करना इस वक्त संभव नहीं है, लेकिन दानापुर को सप्ताह में एक बार के बजाए दो बार कर दिया जाएगा। यात्रियों की संख्या को देखते हुए दानापुर एक्सप्रेस में पांच अतिरिक्त कोच लगाने की बात सिन्हा ने कही।
नामंजूर : गोरखपुर ट्रेन अभी नहीं
1992 में गंगा ताप्ती ट्रेन के लिए आंदोलन करने वाले राम नरेश मिश्र ने बताया कि हमने रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा से गोरखपुर के लिए ट्रेन मांगी थी जो वाया इलाहाबाद हो कर चले। उन्होंने कहा कि एक ही बार में यह संभव नहीं है कि इतनी ट्रेनें एक ही शहर से चलाई जाएं। हम ट्रेन तो दे रहे हैं।
नाराजगी : यूपी-बिहार के लिए ट्रेन नहीं
दिवाली, दशहरा और दुर्गा पूजा के लिए पश्चिम रेल ने जयपुर, अजमेर के लिए और राजकोट से झारखंड होते हुए संतरागाछी के लिए छठ पूजा स्पेशल ट्रेन चलाने की घोषणा की है। इस घोषणा से सूरत के उत्तर भारतीयों में नाराजगी है। उनका कहना है कि यूपी-बिहार के बजाय राजस्थान के लिए ट्रेन चला दी।
सूरत और बांद्रा से दिवाली, दशहरा, दुर्गा पूजा और छठ पूजा के लिए नई ट्रेन चलाने का प्रस्ताव सूरत स्टेशन से पश्चिम रेल के मुख्यालय में भेज दिया गया है। सूरत से चल रही ताप्ती गंगा के साथ ही एक नई ट्रेन और बांद्रा टर्मिनस से भी दिवाली से पहले एक नई ट्रेन चलाने का प्रस्ताव है।
विचार : चल सकती हैं विशेष ट्रेनें- 
मुंबई मंडल के रेल प्रबंधक मुकुल जैन ने बताया कि दिवाली के लिए राजस्थान के लिए जो ट्रेनें चलाई जा रही हैं वे नियमित नहीं, बल्कि स्पेशल ट्रेनें हैं। उत्तर भारतीयों की नियमित ट्रेन की मांग पर रेल बोर्ड विचार कर रहा है। यूपी-बिहार के लिए भी दिवाली विशेष ट्रेनों के संचालन पर विचार हो रहा है।
मंत्री बोले : 27 सितंबर से चलेगी महामना-  नवसारी सांसद सीआर पाटिल ने बताया कि रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा ने आश्वासन दिया है कि वडोदरा से वाराणसी के बीच चलने वाली महामना एक्सप्रेस 27 सितंबर तक शेड्यूल में ली जा सकती है। इसके अलावा उधना-जयनगर अंत्योदय एक्सप्रेस भी दौड़ेगी। पूरी तरह अनारक्षित और आधुनिक सुविधाओं से लैस 15563/64 उधना-जयनगर अंत्योदय एक्सप्रेस इस वर्ष दिसंबर तक यात्री सेवा में आ जाएगी। जबकि बांद्रा-गोरखपुर अंत्योदय अनारक्षित ट्रेन का परिचालन शुरू हो चुका है।
दो बार हुआ बड़ा रेल आंदोलन- रेल नहीं तो चैन नहीं के नारे के साथ सूरत रेलवे स्टेशन परिसर में ट्रेन की मांग को लेकर उत्तर भारतीय रेल संघर्ष समिति के साथ 28 मई और 13 अगस्त को बड़ी संख्या में उत्तर भारतीय सड़कों पर उतरे थे। हजारों उत्तर भारतीय झंडे के साथ सूरत स्टेशन पहुंचे थे। इस रैली में झारखंड के लिए ट्रेन की मांग की गई थी। उस समय भी रेल अधिकारियों द्वारा ट्रेन चलाने का सिर्फ आश्वासन दिया गया था।
बजट में हुई थी घोषणा
बजट 2016 में बांद्रा-गोरखपुर और उधना-जयानगर के बीच अंत्योदय अनारक्षित ट्रेन की घोषणा हुई थी। उधना से इस पूर्णतः अनारक्षित ट्रेन के चलाए जाने से यहां से यूपी-बिहार यात्रियों को गांव जाने में राहत मिलेगी। यह ट्रेन भुसावल होते हुए इलाहबाद छिवकी से पटना उसके बाद जयानगर जाएगी पहुंचेगी।
बढ़ेगा स्लीपर कोटा
पश्चिम रेल के अधिकारियों ने बताया कि ट्रेन की समस्या को देखते हुए हमने बांद्रा से उत्तर भारत जाने वाली सभी बाई पास ट्रेनों के आरक्षण कोटा को सूरत से बढ़ाने की योजना बनाई है। इस योजना को जल्द अमल में लाया जाएगा।



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *