Search
Sunday 21 April 2019
  • :
  • :

मूलांक 4

मूलांक 4

मूलांक 4 :
. 4, 13, 22, 31 तारीख को जन्में व्यक्तियों का मूलांक 4 होता है.8
भारतीय अंकशास्त्र में 4 मूलांक का अधिष्ठाता ग्रह राहु है और पाश्चात्य मतानुसार मूलांक 4 के प्रतिनिध ग्रह ”हर्षल” अर्थात यूरेनस को माना जाता है.
मूलांक चार के जातकों के जीवन में उतार-चढ़ाव बने रहते हैं और जीवन की यह परिस्थितियां अचानक ही आती हैं जिनकी इन्हें कल्पना भी नहीं होती.
4 मूलांक वाले व्यक्ति विश्वसनीय, निश्छल स्वभाव, भावुक, तुनक मिजाज होते हैं और कठिन परिस्थितियों का मुकाबला आसानी से कर लेते हैं। न तो अपना फायदा किसी को उठाने देते हैं और न किसी का फायदा उठाते हैं। कभी इमोशन में आकर डगमगाते नहीं और दूसरों की मदद के लिए हमेशा तैयार रहते हैं। किसी भी काम को करने से पहले अच्छी तरह सोचते-विचारते हैं। हालांकि आप कभी-कभार अपनी जिद में आकर अपनी नुकसान भी कर लेते हैं। ईमानदारी और कठिन परिश्रम की वजह से अपनी पहचान बना लेते हैं। आपमें अद्भुत योग्यता और क्षमता होती है।

विशेषताएं :

ऐसे लोग बहुत ही मस्त-मौला होते हैं। इनका मानना होता है कि जिंदगी केवल एक बार मिलती है, इसलिए इसे भरपूर जीना चाहिए क्या पता कल हो ना हो। ये बेहद ही मजेदार और हंसी-मजाक वाले होते हैं। इन्हें हमेशा लोगों के बीच में खुशी बांटते हुए देखा जा सकता है।
लेकिन इस नाम के लोग अपनी हंसी ही बांटते हैं लेकिन अपने गम किसी खास से ही शेयर करते हैं। ये मस्त मौला जरूर होते हैं लेकिन अपने फैसले बहुत सोच समझ कर लेते हैं। इन्हें सुंदरता प्रभावित करती है, इसलिए इनके दोस्त अक्सर काफी सुंदर होते हैं। ये प्रेम विवाह पर यकीन रखते हैं, सेक्स लाईफ के ये बेहद पसंद करते हैं।

अपने आस-पास बेहद ही अच्छा माहोल बनाने वाले ये लोग काफी तरक्की करते हैं। पैसा इनके पास आता जरूर है लेकिन रूकता नहीं है लेकिन ये इस बात की चिंता नहीं करते हैं। जिंदगी में ये जो चाहते हैं उसे पा ही लेते हैं। कुल मिला कर ऐसे लोगों को लोग काफी पसंद करते हैं। इस नंबर के लोगों से हमेशा दोस्ती करनी चाहिए क्योंकि ऐसे लोग कभी भी आपका मनोबल गिरने नहीं देते हैं।
मूलांक-4 के लोगों की गुप्त नेतृत्व क्षमता गजब की होती है। ये लोगों को गुप्त नेतृत्व देने में कुशल होते हैं। पॉलिटिकल मैनेजर व रणनीतिकार, मीडिया मैनेजर, ऐडवरटाइजिंग गुरु, उपदेशक, मार्गदर्शक, टी. वी. ऐंकर, रेडियो जॉकी, आर्ट डायरेक्टर इत्यादि क्षेत्रों में आसानी से सफल हो सकते हैं।

4 मूलांक वाले सामाजिकता व राजनीति क्षेत्र में भी नवीनता लाने में विश्वास रखते हैं. चार मूलांक वाले सहजता पूर्वक या जल्द ही किसी से संबंध स्थापित अथवा मित्रता नहीं कर पाते हैं किंतु जब मित्र बना लेते हैं तो बहुत अच्छे मित्र साबित होते हैं.

रहस्य और अचानक घटना-क्रम :

इनका व्यक्तित्व रहस्यमय होता है,तथा जीवन में लाभ-हानि, उत्थान-पतन आकस्मिक होता है. इनकी मन:स्थिति का पता लगाना कठिन होता है. अपनी महत्वपूर्ण बातों को गोपनीयता के साथ संभाले रखते हैं. राहु की रहस्यात्मकता इनके चरित्र में परिलक्षित होती है.

मूलांक चार के जीवन में सहसा एवं आश्चर्यजनक प्रगति होती है, जीवन में अनेक असंभावित घटनायें भी घट सकती हैं. मूलांक 4 वाले कभी तो उच्चता के शिखर पर होते हैं और कभी यह न्यूनता को पाते हैं, इनको निरंतर कार्य में लगे रहना पड़ता है और नये-नये परिवर्तन तथा आविष्कारों से यह अपने नाम को रौशन करने का प्रयास करते हैं.

कमियां :

अपने जीवन में ये धन संग्रह अधिक नहीं कर पाते हैं, व्यय अधिक करते हैं ढेर सारा रुपया मिले तो उसे अधिक सोचे समझे बगैर खर्च कर डालते हैं. इन्हें अपव्यय करने पर नियंत्रण तथा धन संचय करना चाहिए.

यदि ये अपनी संघर्ष करने की प्रवृत्ति पर अंकुश रखकर, सहनशील तथा सहिष्णु बन सकें और शत्रुता कम पैदा करें, तो अपने जीवन में अधिक सफलता अर्जित करते हैं.

मूलांक चार के जातकों को अधिक क्रोध भी आता है तथा यह तुनकमिजाज वाले होते हैं. कभी-कभी अत्यधिक श्रम एवं मानसिक थकान के कारण सिरदर्द, गर्मी से उत्पन्न रोग, मानसिक तनाव आदि का सामना करना पड़ता है.

मूलांक 4 वाले अपने स्वभाव तथा विचारधारा में बदलाव लाने का प्रयास करें और प्रतिद्वंन्द्विता तथा संघर्ष करने वाली प्रवृति का त्याग कर दें, तो हर क्षेत्र में सफल हो सकते हैं.

मूलांक चार के जातकों का पारिवारिक और दाम्पत्य जीवन कुछ क्लेशयुक्त भी रहता है. इन्हें पत्नी के स्वास्थ्य की सदैव चिंता बनी रहती है. यदि परिवार के सदस्य उनकी देखभाल करते हैं, तो भी वे अपने को हमेशा अकेला ही समझते हैं इनका अकेलापन दूर नहीं हो पाता है.

मूलांक चार वाले कई बार वे बहुत स्वार्थी भी बन जाते हैं और अपने मन को अकारण दुःख देते हैं, इस कारण हताशा में जीवन व्यतीत करते हैं और अधिक दुःखी रहते हैं.

मूलांक चार वाले बहुत ही संवेदनशील होते है .इनकी भावनाओ को शीघ्र ही ठेस पहुचती है यह अपने आपको ये अकेला महसुस करते है तथा अपने आप को हताश और निराश महसूस करते है

मूलांक चार के लोग अलग ही दृष्टिकोण अपनाते हैं किसी बहस या परिचर्चा मे विरोधी रुख अपनाते है .इस कारण कभी कभी अन्य लोग इन्हें स्वार्थी एवं झगड़ालु समझ सकते है और इनके शत्रु भी बन जाते हैं परन्तु ये ऐसे होते नही है.

दूसरों के परामर्श बिना कुछ भी नही कर सकते है .इस कारण स्वंतत्र निर्णय लेना कठिन होता है. कई बार दूसरों को हानि पहुँचा कर अपना स्वार्थ भी सिद्ध कर लेते है परंतु इन्हें बाद में अपनी गलती का पश्चाताप भी होता है.
इस मूलांक वाले व्यक्ति को हल्के रंग के वस्त्र धारण करना चाहिये ,और गोमेद रत्न धारण करना चाहिये खाने मे पालक तोरई ,सेव पपीता ख़ाना चाहियें।
मूलांक 4 के लिए 36 और 42 वें वर्ष अति शुभ होते है व अटूट धन संपत्ति कारक होते हैं।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *