Search
Sunday 24 February 2019
  • :
  • :

धनतेरस: घर के दरवाजे पर करें ये 6 काम, धन और सेहत का होगा लाभ

धनतेरस: घर के दरवाजे पर करें ये 6 काम, धन और सेहत का होगा लाभ

news5बेला रायजादा- वास्तु के मुताबिक किसी भी त्योहार के वक़्त घर के मुख्य द्वार का महत्त्व और बढ़ जाता है। दिवाली और धनतेरस जैसे त्योहार जिनमें साफ़-सफाई का ख़ास महत्त्व है के दौरान तो मुख्य द्वार की साफ-सफाई और दरवाजे को सजाने का खास खयाल रखा जाना चाहिए। आज www.vidrohiawaz.com आपको बता रहा है कि धनतेरस के दौरान आपको घर या दुकान के दरवाज़े के पास ऐसी कौन सी चीज़ें रखनी चाहिए जिससे मां लक्ष्मी प्रसन्न होंगी और धन और सेहत का लाभ होगा:

1.धनतेरस पर घर या दूकान के मुख्य द्वार पर मां लक्ष्मी के पैरों के निशान लगाना बेहद शुभ माना जाता है। आपको बस इस बात का ध्यान रखना है कि पैरों की दिशा द्वार से अंदर आते हुए हो न कि बाहर जाते हुए। ये लगाने से घर या बिजनेस में कभी धन की कमी नहीं होती।

 

2. मां लक्ष्मी के पैरों के निशान के अलावा घर या दुकान के मुख्य द्वार पर ओम बनाकर शुभ-लाभ लिखें। आपको बस इसbela बात का खयाल रखना है कि ये चिन्ह दरवाजे के पूर्व या उत्तर दिशा की ओर ही बनाएं। ऐसा करने से घर में बीमारी नहीं रहती और सबकी सेहत अच्छी बनी रहती है।

3.धनतेरस के मौके पर घर-दुकान के दरवाजे पर चांदी का स्वास्तिक लगाना शुभ फलदायक माना जाता है। वास्तु के अनुसार, इससे घर में बीमारी नहीं आती। ऐसा न कर पाने पर लाल कुमकुम से भी स्वास्तिक बना सकते हैं।

 धनतेरस का मुहूर्त, कैसे करनी होगी पूजा- 

4. धनतेरस या दिवाली पर घर या दुकान के मुख्यद्वार के पास किसी बर्तन में पानी भरकर उसमें फूल डाल दें। पानी और फूल से भरे इस बर्तन को मुख्यद्वार की पूर्व या उत्तर दिशा में रखें। इससे धनलाभ के अलावा घर के मुखिया को यश लाभ भी होता है।

5. दिवाली से पहले घर के दरवाजे पर सुंदर और कलरफुल तोरण बांधना चाहिए। यदि तोरण आम की पत्ती, पीपल या अशोक के पत्तों से बनी हो, तो और शुभ होता है। इन चीजों के तोरण बनाने से घर में नकारात्मक ऊर्जा नहीं आती और घर में लक्ष्मीजी निवास करती हैं।

धनतेरस पर खरीदने हैं पीतल या स्टील के बर्तन तो यहां मिल रहे हैं सस्ते-

6. दिवाली पर घर या दुकान के मुख्यद्वार के ऊपर मां लक्ष्मी की ऐसी तस्वीर लगाएं, जिसमें वो कमल के फूल पर विराजित हों। ऐसा करने से घर-परीवार को कई शुभ फल मिलते हैं।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *