Search
Friday 18 January 2019
  • :
  • :

उत्तर कोरिया ने कहा- कुत्ते का भौंकना और अमेरिका की धमकी में कोई अंतर नहीं

उत्तर कोरिया ने कहा- कुत्ते का भौंकना और अमेरिका की धमकी में कोई अंतर नहीं

प्योंगयांग/वॉशिंगटन: उत्तर कोरिया लगातार युद्ध की ओर बढ़ रहा है. उत्तर कोरिया ने एक बार फिर अमेरिका पर तंज कसते हुए ललकारा है. बुधवार को अमेरिका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने उत्तर कोरिया को बर्बाद करने की धमकी दी थी जिसके जवाब में उत्तर कोरिया के विदेश मंत्री ने ट्रंप की धमकी को कुत्ते के भौंकने जैसा बताया.

उत्तर कोरिया के विदेश मंत्री रि योंग हो ने कहा है कि अमेरिका की धमकी कुत्ते के भौंकने की आवाज से ज्यादा कुछ नहीं है. अगर ट्रंप सोचते हैं कि वो कुत्ते के भौंकने की आवाज से हमें डरा देंगे तो वह गलतफहमी में जी रहे हैं. उत्तर कोरिया अमेरिका की धमकी से डरने वाला नहीं है.

 क्या म्यांमार पर लगेंगे उत्तर कोरिया जैसे प्रतिबंध? 
आपको बता दें कि अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने संयुक्त राष्ट्र में उत्तर कोरिया के खिलाफ बहुत कड़ी भाषा का उपयोग किया था. ट्रंपे ने उत्तर कोरिया को पूरी तरह से नष्ट कर देने की चेतावनी दी और वहां के शासको को अपराधियों का गिरोह बताया था. जानकारों की मानें तो उत्तर कोरिया के कारण दुनिया एक और जंग की दहलीज़ पर खड़ी है. पूरी दुनिया का माहौल इस समय बेहद तनावपूर्ण है, ना तो उत्तर कोरिया का तानाशाह किम जोंग ही दम ले रहा है और ना ही अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप की हमला करने की धमकियां देने से कतरा रहे हैं , लेकिन सवाल ये है कि क्या ट्रंप वाकई उत्तर कोरिया पर हमले का आदेश दे सकते हैं?

भीतर से कैसा है लगता है उत्तर कोरिया?

ये प्रश्‍न इसलिए खड़ा हो रहा है, क्योंकि संयुक्त राष्ट्र में दिये गये उनके भाषण का उन्हीं के देश में विरोध जारी है. राष्ट्रपति चुनाव में उनकी विरोधी उम्मीदवार हिलेरी क्लिंटन ने उनके बयान को बेहद खतरनाक बताया है. हिलेरी ने कहा है कि ट्रंप का भाषण बहुत खतरनाक था, ये ऐसा संदेश नहीं था जो दुनिया के एक महान राष्ट्र के नेता को देना चाहिए था.




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *