Search
Friday 21 September 2018
  • :
  • :

अहमदाबाद: बुराड़ी जैसे कांड में मिला नया नोट, भूतों से परेशान होकर व्यापारी ने परिवार संग दी जान?

अहमदाबाद: बुराड़ी जैसे कांड में मिला नया नोट, भूतों से परेशान होकर व्यापारी ने परिवार संग दी जान?

कुणाल ने पत्नी और बेटी संग दी थी जान
अहमदाबाद
गुजरात के अहमदाबाद में न्यू नरोदा के रहनेवाले व्यापारी और उनके परिवार की आत्महत्या का मामला गहराता जा रहा है। व्यापारी कुणाल त्रिवेदी ने एक सूइसाइड नोट छोड़ा था, जिसमें काले जादू के असर की बात लिखी थी। अब पुलिस को एक और नोट मिला है जो कथित तौर पर कुणाल की पत्नी कविता ने लिखा है। नोट में दावा किया गया है कि ‘भूत’ उन्हें परेशान कर रहे थे। नोट त्रिवेदी के बेडरूम से मिला है।

नोट में उन्होंने दावा किया है कि उनके पति को पिछले कुछ साल से भूत परेशान कर रहे थे। इसलिए, उन्होंने आत्महत्या कर इस परेशानी से छुटकारे पाने का समाधान समझा। कुणाल हाल ही में बोपाल से न्यू नरोदा शिफ्ट हुए थे। उन्होंने अपनी 16 साल की बेटी शिरीन के नाम पर एक कॉस्मेटिक्स मार्केटिंग कंपनी शुरू की थी। उन्होंने बोपाल के अपने बंगले को भी बेच दिया।

‘कर्ज के लिए बेचा बंगला’
सूत्रों के मुताबिक परिवार आर्थिक रूप से मजबूत था। हालांकि, कविता ने अपने नोट में अपने पैरंट्स को बताया है कि बोपाल के बंगले को बेचकर कर्ज चुकाए हैं। कविता ने लिखा है कि वे साथ में आत्महत्या कर रहे हैं क्योंकि उन्हें नहीं लगता कि उनकी बात पर कोई यकीन करेगा और सब हंसेंगे। उधर, कुणाल की मां जयश्री ने पुलिस को बताया कि कुणाल को डर था कि उनकी पूर्व मंगेतर का भूत उन्हें परेशान कर रहा है।

‘पूर्व मंगेतर का भूत…’
उन्होंने बताया कि 20 साल पहले जब वे मध्य प्रदेश में थे, कुणाल की सगाई इंदौर की एक लड़की से हुई थी। उसने बाद में आत्महत्या कर ली। कुछ साल पहले कुणाल ने दावा किया कि उस लड़की का भूत उन्हें और उनके परिवार को परेशान कर रहा है। वह परेशान होकर शराब पीने लगे। हालांकि, जयश्री ने कभी उनका यकीन नहीं किया। डीसीपी नीरज ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है और हर संभव कारण का पता लगाया जा रहा, खासकर इसलिए क्योंकि त्रिवेदी परिवार आर्थिक या पारिवारिक परेशानी से नहीं गुजर रहा था।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *